प्रादेशिक न्यूज़हिमाचल प्रदेशदेश-विदेशआम-मुद्दाक्राइम/हादसापंजाब/जम्मूमेरी पांगीपत्रिका स्पशेलदिव्य दर्शनराशिफलसंता/बंतावायरल न्यूज़विज्ञापन संपर्क

पांगी: आवासीय आयुक्त पांगी ने ग्रामीणों के साथ किया अभद्र व्यवाहर, सीएम को भेजा ज्ञापन

22 days ago | Patrika News Desk

पांगी: जिला चंबा के जनजातीय क्षेत्र पांगी के ग्राम पंचायत शौर में स्थित वन विभाग के विश्राम गृह में आवासीय आयुक्त पांगी की अध्यक्षता में ग्रामीणों के साथ सतलुज जल विद्युत निगम परियोजना को लेकर एक बैठक का आयोजन किया गया। ग्रामीणों  के मना करने पर भी आवासीय आयुक्त पांगी द्वारा ग्रामीणों को धमकी भरी बातों से विद्युत परियोजना का कार्य शुरू करने के आदेश कंपनी को दे दिए है। बैठक के दौरान काफी समय तक आवासीय आयुक्त पांगी व ग्रामीणों के साथ बहसबाजी चली। बात यहां तक पहुंच गई कि पांगी प्रशासन की ओर से बैठक में मौजूद अधिकारियों की ओर से ग्रामीणों पर मामला दर्ज करने की बात कही गई।

Advertisement

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शौर पंचायत के ग्रामीण सतलुज जल विद्युत परियोजना को लेकर पिछले काफी समय से विरोध कर रहे है। लेकिन इसके बावजूद भी प्रशासन ग्रामीणों को मनाने के लिए कई प्रकार के हथकंडे अपना रहा है। सतलुज जल विद्युत परियोजना शौर पंचायत के करीब 185 किसान प्रभावित हो रहे है। इस परियोजना से किसानों व बागवानों का काफी नुकसान हो रहा है। ग्रामीणों द्वारा आवासीय आयुक्त पांगी के समक्ष अपनी आपत्तियां दर्ज करवाने के बावजूद भी ग्रामीणों के साथ अभद्र व्यवहार किया गया है। इसको लेकर ग्रामीणों द्वारा पंचायत प्रधान दमयंती भारद्वाज की अगुवाई में प्रदेश के मुख्यमंत्री व राज्यपाल को ज्ञापन भेजा हुआ है।

Advertisement

और आवासीय आयुक्त के खिलाफ कार्रवाई की मांग उठाई हुई है। ग्राम पंचायत शोर के ग्रामीणों ने पांगी प्रशासन पर आरोप लगाया है कि वर्तमान में आवासीय आयुक्त पांगी द्वारा शौर पंचायत में बीते दिनों हुई बैठक के दौरान अभद्र व्यवहार किया गया है। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों की जनसुनवाई नहीं हो रही है। लेकिन शोषण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि पांगी प्रशासन की ओर से बिना ग्रामीणों के पूछे कंपनी को कार्य करने के आदेश जारी कर दिए गए है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Next Article