प्रादेशिक न्यूज़हिमाचल प्रदेशदेश-विदेशआम-मुद्दाक्राइम/हादसापंजाब/जम्मूमेरी पांगीपत्रिका स्पशेलदिव्य दर्शनराशिफलसंता/बंतावायरल न्यूज़विज्ञापन संपर्क

पत्नी जुआ खेलती है, प्रेमी से संबंध बनाती है, मुझे 28 बार जेल भिजवा दिया, पति ने सुनाई आपबीती

a month ago | Patrika News Desk

जेल जाना किसी को भी पसंद नहीं होता है। लेकिन कई बार जाने अनजाने में आप ऐसे काम कर देते हैं जिसकी वजह से आपको जेल की हवा खानी पड़ती है। आमतौर पर यदि कोई व्यक्ति पेशेवर अपराधी न हो तो वह जीवन में एक या दो बार ही जेल जाता है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे शख्स से मिलाने जा रहे हैं जो 28 बार जेल जा चुका है। हैरत की बात ये है कि हर बार उसकी पत्नी ने ही उसे जेल भेजा है।

Advertisement

पत्नी ने 28 बार भेजा पति को जेल

दरअसल ये अनोखा मामला राजस्थान के धौलपुर जिले का है। यहां धौलपुर नगर थाना में एक शख्स अपनी पत्नी के खिलाफ शिकायत लेकर पहुंचा। उसने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी उसे बहुत सताती है। उसका उत्पीड़न करती है। पत्नी के अपने बॉयफ्रेंड से संबंध है। वह जब भी उसे बॉयफ्रेंड से मिलने या बात करने से रोकता है तो वह थाने जाकर उसे झूठे केस में जेल भिजवा देती है। वह ऐसा अब तक 28 बार कर चुकी है।

Advertisement

पति ने ये भी कहा कि मेरी पत्नी मेरी मां और बच्चों की बेरहमी से पिटाई करती है। उसे जुए खेलने की भी आदत है। वह मेरी मेहनत के कमाए पैसे जुए में उड़ा देती है। उसने महिलाओं के कुछ समूहों से 4-5 लाख का कर्ज भी लिया था। वह पैसे भी मैंने जैसे तैसे चुकाए। पीड़ित पति ने जब अपनी ये दुखभरी व्यथा सुनाई तो पुलिस भी दंग रह गई।

Advertisement

धौलपुर नगर थाना प्रभारी वीरेंद्र शर्मा ने ने बताया कि पुलिस अभी सारे बिंदुओं पर जांच कर रही है। जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि पति की कही बातें सच है या नहीं। उधर यह पूरा मामले इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है। सभी ने बेरहम और धोखेबाज पति से पीड़ित पत्नी को तो कई बार देखा है। लेकिन ऐसा उल्टा मामला बहुत कम ही देखने को मिलता है।

Advertisement

ये पति भी पहुंचा था पत्नी की शिकायत लेकर

इसके पहले 2018 में भी ऐसा ही एक मामला पालमपुर में सामने आया था। यहां खड़ौठ बल्ला निवासी रामदास पुत्र दुनिया राम पालमपुर के एस.डी.एम. के पास पत्नी की शकायत लेकर पहुंचा था। उसने बीवी पर आरोप लगाया कि वह उसकी एक बार नहीं सुनती है। सारे काम अपनी मनमर्जी से करती है। इसलिए मरने के बाद उसकी सारी संपत्ति की वारिस सरकार होगी। वह अपनी पत्नी को सारी संपत्ति से 26 मई, 2015 को बेदखल कर चूक है। पति ने राजस्व रिकॉर्ड में पत्नी को बेदखल करने के सारे कागजात भी एस.डी.एम. को सौंपे थे।

Advertisement
Advertisement
Next Article