For the best experience, open
https://m.pangighatidanikapatrika.in
on your mobile browser.
Advertisement

बड़ी उपलिब्ध || हिमाचल की बेटी ने हासिल किया बड़ा मुकाम, बनी नर्सिंग ऑफिसर, पिता के आंखों से छलके खुशी के आंसू

11:21 AM Nov 13, 2023 IST | Patrika News Himachal
बड़ी उपलिब्ध    हिमाचल की बेटी ने हासिल किया बड़ा मुकाम  बनी नर्सिंग ऑफिसर  पिता के आंखों से छलके खुशी के आंसू
Advertisement

बड़ी उपलिब्ध ||  हमीरपुर। हिमाचल की बेटियां आज हर क्षेत्र में बड़े बड़े मुकाम हासिल कर रही हैं। हिमाचल के छोटे छोटे गांवों से निकल कर यह बेटियां हर क्षेत्र में अपना और अपने परिवार का नाम रौशन कर रही हैं। यही नहीं अपने बेटों की ही तरह घर चलाने में भी बेटियां अपनी अहम भूमिका निभा रही हैं। ऐसी एक बेटी ने अपनी मेहनत से बड़ा मुकाम हासिल किया है। यह बेटी स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी अधिकारी बन गई है। यह बेटी हिमाचल के हमीरपुर जिला की रहने वाली है।

Advertisement

हमीरपुर के बड़सर की रहने वाली है नीना कुमारी

मिली जानकारी के अनुसार हमीरपुर जिला के विधानसभा क्षेत्र बड़सर की बेटी नीना कुमारी ने अखिल भारतीय स्तर की नॉर्सैट-5 परीक्षा पास कर नर्सिंग ऑफिसर का पद हासिल किया है। नीना कुमारी ने अखिल भारतीय स्तर की इस परीक्षा को पास कर देश भर में 1778वां रैंक हासिल किया है। जिसके चलते नीना कुमारी अब एम्स ऋषिकेश में बतौर नर्सिंग ऑफिसर बन कर अपनी सेवाएं देगी।

Advertisement

घर के आर्थिक हालात ठीक ना होने पर भी पाया बड़ा मुकाम

बड़सर विधानसभा क्षेत्र के गांव सकरोह डाकघर बिहरु की रहने वाली नीना कुमारी के पिता रमेश चंद एक टैक्सी चालक हैं, जबकि माता नजनी देवी एक गृहिणी हैं। घर की आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के बाद भी नीना कुमारी ने हार नहीं मानी और ना ही उसके पिता ने बेटी के मार्ग में आर्थिकी को बाधा नहीं बनने दिया।  नीना के पिता ने कड़ी मेहनत की और बेटी को नर्सिंग का कोर्स करवाया। जिसका नतीजा है कि आज नीना कुमारी ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ा मुकाम हासिल कर अपने पिता की मेहनत को सफल कर दिया। बता दें कि नीना कुमारी ने साल 2018 में बीएससी नर्सिंग की डिग्री हासिल कर ली थी। जिसके बाद उसके पिता का सपना था कि बेटी नर्सिंग ऑफिसर बने। लेकिन उन्हंे बेटी की शादी करनी पड़ी।

बड़ी उपलिब्ध || हिमाचल की बेटी ने हासिल किया बड़ा मुकाम, बनी नर्सिंग ऑफिसर, पिता के आंखों से छलके खुशी के आंसू
बड़ी उपलिब्ध || हिमाचल की बेटी ने हासिल किया बड़ा मुकाम, बनी नर्सिंग ऑफिसर, पिता के आंखों से छलके खुशी के आंसू

वर्ष 2019 में नीना कुमारी की शादी कर दी। लेकिन उसके बाद भी उसके पिता ने बेटी को नर्सिंग ऑफिसर बनाने के लिए अपनी सारी जमा पूंजी लगा दी और उसे कोचिंग दिलवाई। वहीं बेटी नीना ने भी पिता के संघर्ष को देखते हुए कड़ी मेहनत की और पहले ही प्रयास में नर्सिंग की परीक्षा पास कर आज नर्सिंग अधिकारी बन गई।  बता दें कि देश भर में नर्सिंग ऑफिसर के कुल 4094 पदों के लिए इस परीक्षा का आयोजन किया गया। इस परीक्षा में 20815 अभ्यर्थियों को प्रारंभिक परीक्षा से चयन हुआ। उसके बाद 9140 अभ्यर्थी मेन्स पेपर में चयनित हुए थे। इन्हीं अभ्यर्थियों में नीना कुमारी का नाम भी शामिल हुआ और आज वह एम्स ऋषिकेश में नर्सिंग अधिकारी बन गई है।

Advertisement
Advertisement

.

tlbr_img1 ग्रुप के साथ जुड़े tlbr_img2 गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें tlbr_img3 शहर चुनें tlbr_img4 ओपिनियन